Home > व्यापार > आइडिया सेल्युलर को दूसरी तिमाही में 1,106 करोड़ का घाटा%!%!%!%!%!%!%!%!

आइडिया सेल्युलर को दूसरी तिमाही में 1,106 करोड़ का घाटा%!%!%!%!%!%!%!%!

दूरसंचार कंपनी आइडिया सेल्युलर का चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में एकीकृत शुद्ध घाटा 1,106 करोड़ रुपए रहा। पिछले साल इसी अवधि में कंपनी का शुद्ध लाभ 91.5 करोड़ रुपए था। फाइनेंशियल ईयर 2018 के दूसरे क्वार्टर में कंपनी का ऑपरेशनल रेवेन्यू 19.72 फीसदी गिरकर 7,465.5 करोड़ रुपए रहा है। वहीं एक साल पहले समान अवधि में कंपनी का रेवेन्यू 9300.23 करोड़ रुपए था। तिमाही दर तिमाही आधार पर दूसरी तिमाही में आइडिया सेल्युलर का एबिटडा 1875.4 करोड़ रुपए से घटकर 1501.6 करोड़ रुपए रहा है। तिमाही आधार पर दूसरी तिमाही में आइडिया सेल्युलर का एबिटडा मार्जिन 23 फीसदी से घटकर 20.1 फीसदी रहा है।

घाटे के बाद टूटा शेयर

सोमवार को आइडिया सेल्युलर का स्टॉक बढ़त के साथ खुला। आइडिया के शेयर में करीब 2.93 फीसदी की तेजी देखी गई। शेयर अपने आज के रिकॉर्ड हाई पर था। इसके बाद दूसरे क्वार्टर में कंपनी को घाटा होने की खबर से शेयर में गिरावट आई और शेयर 8.60 फीसदी टूटकर 91.30 रुपए के दिन के निचले स्तर पर पहुंच गया।

टावर कारोबार बेचेगी कंपनी

वोडाफोन और आइडिया भारत में आइडिया सेल्युलर अपने टावर कारोबार को एटीसी टेलिकॉम इंफ्रा को बेचेगी। टावर कारोबार की बिक्री से कंपनी को 7,850 करोड़ रुपए मिलेंगे। इसमें से 3,850 करोड़ रुपए वोडाफोन को और 4,000 करोड़ रुपए आइडिया को मिलेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *