Home > राष्ट्रीय > भाजपा गुजरात में नहीं कर सकेंगी ‘पप्पू’ शब्द का इस्तेमाल ….. चुनाव आयोग ने लगाई रोक%!%!%!%!%!%!%!%!

भाजपा गुजरात में नहीं कर सकेंगी ‘पप्पू’ शब्द का इस्तेमाल ….. चुनाव आयोग ने लगाई रोक%!%!%!%!%!%!%!%!

 

गाँधीनगर। चुनाव आयोग ने भारतीय जनता पार्टी पर गुजरात में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए टेलीविज़न विज्ञापनों में ‘पप्पू’ शब्द का इस्तेमाल करने पर रोक लगा दी है। भाजपा कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी का उपहास उड़ाने के लिए ‘पप्पू’ शब्द का इस्तेमाल करती रही है।

भाजपा के सूत्रों ने भी चुनाव आयोग के आदेश की पुष्टि करते हुए बताया कि चुनाव प्रचार के लिए तैयार किए जा रहे विज्ञापनों में आयोग द्वारा दिये गए आदेशों का ध्यान रखा जा रहा है और किसी खास व्यक्ति को निशाना बनाने वाले शब्दों का इस्तेमाल नहीं किया जा रहा है ।

सूत्रों की माने तो , गुजरात के मुख्य निर्वाचन अधिकारी के अधीन मीडिया कमिटी ने पार्टी द्वारा पिछले महीने पेश किए गए विज्ञापनों की स्क्रिप्ट में इस्तेमाल कुछ शब्दों पर आपत्ति जताई थी। आप को बता दे चुनाव प्रचार से जुड़ी कोई भी सामग्री तैयार करने से पहले मंजूरी लेने के लिए उसे गुजरात मुख्य निर्वाचन अधिकारी की मीडिया कमिटी को भेजना होता है।

भाजपा द्वारा भेजी गये टेलीविज़न विज्ञापनों में कमिटी ने विज्ञापन की स्क्रिप्ट में पप्पू शब्द को अपमानजनक करार देते हुए आपत्ति जताई है और भाजपा को इसे हटाने या उसकी जगह कोई दूसरा शब्द इस्तेमाल करने का निर्देश दिया गया है।

भाजपा से जुड़े एक सीनियर नेता ने बताया कि पार्टी चुनाव प्रचार सामग्री में से इसकी जगह दूसरे शब्द का इस्तेमाल करेगी और नई स्क्रिप्ट EC की मंजूरी के लिए भेजी जाएगी। उन्होंने कहा, “विज्ञापन की स्क्रिप्ट में पप्पू शब्द का इस्तेमाल सीधे-सीधे किसी के लिए नहीं किया गया था, इसलिए हमने आयोग से इस पर पुनर्विचार करने का अनुरोध किया। लेकिन आयोग ने हमारा अनुरोध ठुकरा दिया। इसलिए अब हम इस शब्द की जगह कोई दूसरा शब्द इस्तेमाल करेंगे। “

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *