Mon. Jan 21st, 2019

16 को अयोध्या जाएंगे श्रीश्री रविशंकर

अयोध्या विवाद में मध्यस्थ की भूमिका निभाने के लिए आगे आए अध्यात्मिक गुरु श्रीश्री रविशंकर 16 नवम्बर को अयोध्या जाएंगे। जहां हिन्दू और मुस्लिम दोनों ही पक्षकारों से मुलाकात करेंगे। रविवार को अखाड़ा परिषद् के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी भी अयोध्या पहुंचे थे। जहां उनसे शिया सेन्ट्रल वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने मुलाकात की और मीडिया से बातचीत में नरेन्द्र गिरी ने कहा- अभी तक वार्ता सही लोगों से नहीं हो रही थी। हम केवल पक्षकारों को साथ लेकर चल रहे हैं। श्रीश्री रविशंकर साधु संत नहीं हैं… जो इनकी बात मानी जाए… वो तो केवल एनजीओ चलाते हैं… वो बिना मतलब बीच में आए हैं… राम मंदिर बनवाना उनके बस की बात नहीं है… यह केवल साधू-संत ही कर सकते हैं। आपको बता दें की 1949 में विवादित ढांचे में रामलला की मूर्ति सामने आने के बाद विवाद शुरू हुआ। तब सरकार ने इस जगह को विवादित घोषित कर दिया। इस जगह ताला लगा दिया गया था। शिया वक्फ बोर्ड अयोध्या मामले में प्रतिवादी नंबर 24 है। बोर्ड ने पहली बार सुप्रीम कोर्ट में ही एफिडेविट दायर किया है। 68 साल पुराने इस मसले को सुलझाने के लिए शिया वक्फ बोर्ड के अलावा सुप्रीम कोर्ट, इलाहाबाद हाईकोर्ट और सुब्रमण्यम स्वामी भी रास्ता सुझा चुके हैं।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *