Sun. Jan 20th, 2019

JNU में छात्रों का 75 % अटेंडेंस के खिलाफ प्रदर्शन,वीसी समेत स्टाफ को बनाया बंधक

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी एक बार फिर सुर्खियों में है और इस बार वजह है यूनिवर्सिटी के वीसी को बंधक बनाने का मामला। बताया गया कि छात्रों ने वीसी को बंधक बना लिया है जिसे लेकर आधी रात को कैंपस में विवाद बढ़ गया लेकिन छात्र संगठन ने वीसी को बंधक बनाने से साफ इंकार किया है। ट्विटर पर वायरल हुए दो वीडियो ने जेएनयू कैंपस के माहौल गर्मा दिया। ये वीडियो जेएनयू के वीसी की तरफ से जारी किया गया जिसमें दावा किया गया कि प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने वीसी समेत एकाडेमिक बिल्डिंग मे मौजूद पूरे स्टाफ को बंधक बना लिया है। वीडियो में जेएनयू के रेक्टर को छात्रों से बातचीत करते देख जा सकते है।

जैसे ही ये दोनों वीडियो वायरल हुआ 75 फीसदी अटेंडेंस को जरूरी करने के आदेश का विरोध कर रहे छात्रों के बीच हड़कंप मच गया। एकेडेमिक बिल्डिंग के पास धरना-प्रदर्शन पर बैठे छात्र बिल्डिंग की तरफ भागे और वीसी को बाहर आकर उनसे बात करने की मांग करने लगे। छात्रों ने साफ किया उन्होंने किसी को बंधक नहीं बनाया है, वो तो बस वीसी से बात करना चाहते हैं। वीसी कह रहे हैं कि छात्रों ने उन्हें बंधक बना लिया है वो वीडियो पोस्ट कर इसे साबित करने की कोशिश भी कर रहे हैं।

हालांकि वीडियो में बंधक बनाने जैसी कोई बात साफ-साफ दिख नहीं रही है। हां वीडियो में छात्रों के बीच पहुंचे रेक्टर के साथ छात्रों की कुछ बातचीत जरूर दिख रहा है। छात्र यूनियन की अध्यक्ष का तो यहां तक दावा है कि एडमिन ब्लॉक के अंदर कोई भी नहीं है, फिर बंधक बनाने की बात कहां से आती है। दरअसल, जेएनयू के छात्र पिछले कई दिनों से वीसी के उस फरमान के खिलाफ हाजिरी विरोध कर रहे हैं जिसमें 75 फीसदी अटेंडेंस को जरूरी कर दिया गया है। ऐसा नहीं करने पर छात्रों को मिलने वाली कई सुविधाओं को खत्म करने की धमकी दी गई है। छात्र वीसी की इन्हीं धमकियों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं और उनसे बात करना चाहते हैं।

छात्रों का आरोप है कि वीसी एक के बाद एक ऐसे-ऐसे सर्कुलर जारी कर रहे हैं जिनसे जेएनयू की पहचान खत्म हो जाएगी। वीसी ने सर्कुलर जारी कर 11 बजे के बाद जेएनयू के ढाबे बंद रखने को कहा है। जीएस क्लास को भी खत्म करने का सर्कुलर जारी हुआ है और अब इन्होंने 75 फीसदी अटेंडेंस का सर्कुलर निकाला है जिसके विरोध में छात्र लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं। गुरुवार को भी छात्रों ने जो धरना-प्रदर्शन शुरू किया। वो आधी रात के बाद तक जारी रहा।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *