Home > खेल > FIFA: फ्रांस vs उरुग्वे, ब्राजील vs बेल्जियम, जानिए कौन किस पर कितना भारी%!%!%!%!%!%!%!%!

FIFA: फ्रांस vs उरुग्वे, ब्राजील vs बेल्जियम, जानिए कौन किस पर कितना भारी%!%!%!%!%!%!%!%!

फ्रांस और उरूग्वे के बीच कल होने वाले विश्व कप के क्वार्टर फाइनल मुकाबले में सभी की नजरें फ्रांस की गोल मशीन काइलियान एम्बाप्पे पर लगी होगी जिसे रोकना उरूग्वे के सक्षम डिफेंस के लिये चुनौतीपूर्ण होगा । उरूग्वे हालांकि अभी तक हर मैच में अपने मजबूत डिफेंस के दम पर जीतता आया है । दूसरी ओर 19 बरस के एम्बाप्पे हर डिफेंस को भेदने की कला में माहिर नजर आ रहे हैं । फिटनेस समस्याओं से जूझ रहे उरूग्वे के स्ट्राइकर एडिंसन कावानी पीएसजी में एम्बाप्पे के साथ खेलते हैं ।

यह मुकाबला उरूग्वे के डिफेंस और एम्बाप्पे की रफ्तार का माना जा रहा है ।कप्तान डिएगो गोडिन की अगुवाई में जोस जिमेनेज, मार्तिन कासेरेस और डिएगो लक्साट के रहते उरूग्वे का डिफेंस अब तक इस विश्व कप में सर्वश्रेष्ठ रहा है और इसका श्रेय गोलकीपर फर्नांडो मुसलेरा को भी जाता है।ग्रुप चरण में उरूग्वे ने एक भी गोल नहीं गंवाया । उसके खिलाफ एकमात्र गोल पुर्तगाल के पेपे ने अंतिम 16 में किया लेकिन टीम को जीत नहीं दिला सके। ब्राजील ने भी अभी तक एक ही गोल गंवाया है । वहीं फ्रांस की टीम चार गोल गंवा चुकी है ।दोनों ने अब तक सात सात गोल किये हैं ।

उरूग्वे के अनुभवी डिफेंडर मिलकर 350 अंतरराष्ट्रीय मैचों का अनुभव रखते हैं लिहाजा एम्बाप्पे के लिये राह उतनी आसान नहीं होगी जितनी अर्जेंटीना के खिलाफ थी। उरूग्वे के कोच आस्कर तबारेज ने कहा ,” फ्रांस को खुलकर खेलने का मौका देना घातक साबित होगा। फ्रांस के आक्रमण की धुरी एम्बाप्पे और अंतोइने ग्रीजमैन होंगे । पेरिस सेंट जर्मेन के स्ट्राइकर एम्बाप्पे ने अर्जेंटीना के खिलाफ अंतिम 16 में मिली जीत में दो गोल किये थे। फ्रांस के कोच दिदियेर देसचैम्प्स ने कहा कि उरूग्वे से उन्हें अलग तरह की चुनौती मिलेगी।

ब्राजील का छठा विश्व कप जीतने का सपना तोड़ने को बेकरार बेल्जियम

छठी बार विश्व कप जीतने का सपना लेकर उतरी ब्राजील की टीम कल बेहतरीन क्वार्टर फाइनल में बेल्जियम से खेलेगी जिसका इरादा अपने देश के फुटबाल इतिहास का सुनहरा पन्ना लिखकर इस ‘स्वर्णिम दौर को अमर बनाने का होगा। बेल्जियम फुटबाल की सुनहरी पीढी को बखूबी पता है कि यह मैच विश्व स्तर पर एक ताकत के रूप में उभरने का उनके पास आखिरी मौका है । इस टीम के कई खिलाड़ी 2022 में होने वाले विश्व कप में नहीं होंगे। कोच राबर्टो मार्तिनेज ने कहा ,” हमारे खिलाड़ियों के लिये यह सपने जैसा है ।

बेल्जियम ने नाकआउट चरण में जापान पर 3 . 2 से रोमांचक जीत दर्ज की थी। कोच ने कहा ,” हमें डिफेंस मजबूत रखना होगा ताकि ब्राजील पर दबाव बना सकें । हम इसके लिये तैयार हैं। बेल्जियम के पास चेलसी के इडन हेजार्ड, मैनचेस्टर सिटी के केविन डि ब्रूइने और मैनचेस्टर युनाइटेड के रोमेलू लुकाकू जैसे सितारे हैं जो उलटफेर का माद्दा रखते हैं। बेल्जियम की टीम 2014 में भी अंतिम आठ में पहुंची थी जबकि उससे पहले 1986 में क्वार्टर फाइनल तक का सफर तय किया था।

बेल्जियम ने सोमवार को दो गोल से पिछड़ने के बाद वापसी करते हुए 94वें मिनट में नासेर चाडली के गोल के दम पर जीत दर्ज की थी । वह विश्व कप नाकआउट मैच में दो गोल से पिछड़ने के बाद जीत दर्ज करने वाली 48 साल में पहली टीम बनी। इस बार लेकिन उसका सामना नेमार की ब्राजीली टीम से है । मैक्सिको के खिलाफ 2 . 0 से मिली जीत में नेमार ने शानदार प्रदर्शन करके दिखा दिया कि चोट को वह पीछे छोड़ चुके हैं। ब्राजील के आक्रमण से ज्यादा बेल्जियम के लिये खतरा उसका डिफेंस है जिसने अभी तक एक ही गोल गंवाया है। थियागो सिल्वा ने पिछली जीत के बाद कहा ,” यह पेचीदा मैच था लेकिन हमने दमदार वापसी की । अभी हमें सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *