Home > उत्तर प्रदेश > बीवी ने खोला शौहर की नौ शादियों का राज , पकड़ा गया जालसाज%!%!%!%!%!%!%!%!

बीवी ने खोला शौहर की नौ शादियों का राज , पकड़ा गया जालसाज%!%!%!%!%!%!%!%!

फेसबुक पर दो महिलाओं के बीच ‘मेरा पति-मेरा पति’ के झगड़े में राजस्थान के चित्तौड़गढ़ निवासी शातिर समीर अहमद की नौ शादियों का राज खुल गया। मंगलवार को समीर की ठाकुरगंज निवासी पत्नी अफशां परवीन ने बहाने से उसे लखनऊ बुलाया और दबोच लिया। उसे पुलिस के हवाले कर दिया गया है। समीर के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है।

प्रभारी निरीक्षक दीपक दुबे ने बताया कि समीर अहमद ने एक मैर्ट्रीमोनियल साइट के माध्यम से नौ महिलाओं से निकाह कर उन्हें धोखा दिया है। उसने 28 अगस्त 2016 को गढ़ी पीर खां निवासी दर्जी का काम करने वाले अब्दुल अजीज की बेटी अफशां से निकाह किया। वह खुद को फाइनेंस कंपनी संचालक और प्रतिमाह की कमाई एक लाख रुपये बताता था।

अफशां एक निजी उर्दू स्कूल में पढ़ाती हैं। निकाह के बाद वह समीर के साथ ठाकुरगंज के पसंदबाग इलाके में किराये का मकान लेकर रह रही थीं। उसने बताया कि वह गर्भवती हैं। समीर 15 दिन पहले ही बिजनेस के सिलसिले में बाहर जाने की बात कहकर गया था।

दोनों पत्नियों में फेसबुक पर ही शुरू हो गया झगड़ा

चार दिन पहले फेसबुक पर यास्मीन नाम की युवती की फ्रेंड रिक्वेस्ट आई। रिक्वेस्ट स्वीकार करने पर यास्मीन ने चैटिंग शुरू कर दी। उसने बताया कि वह राजस्थान के एक अस्पताल में नर्स है। फेसबुक की प्रोफाइल पिक्चर के बारे में पूछने पर अफशां ने बताया कि वह उसके पति समीर हैं। इस पर यास्मीन बिगड़ गई।

उसने कहा कि समीर उसका पति है और चार महीने पहले ही दोनों का निकाह हुआ है। यह सुनते ही अफशां के होश उड़ गए। उन्होंने कहा कि समीर से उनकी शादी हुई है। फेसबुक पर ही दोनों के बीच झगड़ा भी हुआ। दोनों समीर को अपना पति बताते हुए दावा जता रही थीं। अफशां ने परिवारीजनों को समीर की करतूतों की जानकारी दी तो हड़कंप मच गया।

मंगलवार को उसने बहाने से समीर को लखनऊ बुलवाया और पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। प्रभारी निरीक्षक का कहना है कि समीर ने पूछताछ में नौ शादी करने की बात कुबूल की हैं।

नौकरीशुदा महिलाओं को फंसाता, उनकी कमाई पर करता था ऐश

शातिर समीर सिर्फ नौकरीशुदा महिलाओं को ही अपने जाल में फंसाता था। निकाह के बाद वह उनकी कमाई पर ऐश करता था। बिजनेस टूर और मीटिंग के बहाने वह अक्सर बाहर ही रहता था। अफशां ने बताया कि महीने में छह-सात दिन ही वह घर पर रहता था। उसकी पूरी कमाई वह ले लेता था। कहता था कि रुपये मार्केट में फंसे हैं। मिलते ही लौटा देगा। पत्नियों की कमाई पर वह ऐश करता था।

एक पत्नी से रुपये लेकर वह दूसरी पत्नी के पास जाता। दो-चार दिन वहां ऐश करने के बाद वह तीसरी, चौथी और बाकी पत्नियों के घर जाकर रहता था। बकौल अफशां, उसने समीर को अपनी कमाई से पल्सर बाइक दिलाई थी। कुछ दिन पहले बिजनेस के नाम पर समीर ने उसके भाई आरिफ से 30000 रुपये लिए थे। इसके अलावा कई एफडी तोड़वाकर रुपया हजम कर लिया।

12 साल पहले की थी पहली शादी
पुलिस की पूछताछ में समीर ने बताया कि उसने 12 साल पहले नेहा से शादी की थी, जिसके तीन बच्चे भी हैं। नेहा अभी भी राजस्थान के चित्तौड़गढ़ में समीर की मां के साथ रहती है। उसे शायद पति के फर्जीवाड़े के बारे में जानकारी नहीं है। समीर अक्सर अफशां से कहता था कि वह उसकी सातवीं पत्नी हैं। यास्मीन को वह नवीं पत्नी कहता था। हालांकि, दोनों उसकी बात को मजाक समझकर ध्यान नहीं देती थीं।

पोल खुलने पर लॉक कर दिया था पत्नी का फेसबुक अकाउंट

 फेसबुक पर अफशां से चैटिंग के बाद पति की पोल खुली तो यास्मीन आगबबूला हो गई। उसने पति से अफशां के बारे में पूछा तो वह कोई जवाब नहीं दे सका। दोनों के बीच खूब झगड़ा भी हुआ। इस पर समीर ने यास्मीन का फेसबुक अकाउंट लॉक कर दिया।

हालांकि, चैटिंग के दौरान अफशां उसका मोबाइल नंबर ले चुकी थी। उसने वॉटसएप पर चैट की तो यास्मीन ने लाल जोड़े में समीर के साथ अपनी कई फोटो भेजीं।
गर्भ में पल रहे बच्चे की बीमारी का बहाना बनाकर पति को बुलवाया
अफशां ने बताया कि यास्मीन और उसके बीच फेसबुक पर हुई बातों के बारे में समीर को जानकारी नहीं थी। समीर की पोल खुलने के बाद उसे लखनऊ बुलाया लेकिन वह नहीं आया। इस पर अफशां ने गर्भ में पल रहे बच्चे की हालत बिगड़ने की बात कही। उसने कहा कि तुरंत खून की जरूरत है। इस पर समीर उससे मिलने आया और पकड़ा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *