Mon. Jan 21st, 2019

क्षेत्रीय दल ही BJP को रोक सकते हैं-अखिलेश यादव

केंद्र में सत्तारूढ़ भाजपा के विजय रथ को रोकने के लिए क्षेत्रीय दलों को एकजुट करने की कोशिश कर रहे तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव की कोशिशों को उत्तरप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव का साथ मिला। अखिलेश ने बुधवार को राव से मुलाकात कर उनके प्रयासों का समर्थन किया।

दोनों नेताओं ने मुलाकात के बाद संयुक्त संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया। इस मौके पर अखिलेश ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि क्षेत्रीय दल ही मिलकर सत्तारूढ़ दल की जीत को रोक सकते हैं। उन्होंने कहा, गत चार साल के शासन में भाजपा ने जनता से किए वादों को पूरा नहीं किया है। राव के प्रयास का समर्थन करते हुए अखिलेश ने कहा, यह राजनीतिक मंच नहीं है, बल्कि प्रगतिशील लोगों को साथ लाने का प्रयास है।

वहीं, राव ने कहा, उनकी कोशिश केवल राजनीतिक दलों के जमावड़े के लिए नहीं है। उन्होंने कहा, यह कोई तीसरा, चौथा या पांचवा मोर्चा नहीं है। इसलिए पत्रकारों से अनुरोध है कि वे इस प्रस्तावित गठबंधन को कोई नाम नहीं दें।

राव ने कहा, मैंने शुरू में ही स्पष्ट कर दिया है कि यह राजनीतिक दलों का मंच नहीं है। यह देश के किसानों को संगठित करने और भारतीयों को नई दिशा देने का प्रयास है। उन्होंने कहा, आने वाले एक दो महीनों में संबंधित पक्षों से विचार विमर्श कर प्रस्तावित गठबंधन का एजेंडा तैयार किया जाएगा। मुख्यमंत्री के मुताबिक प्रस्तावित गठबंधन सभी समान विचारधारा के लोगों के लिए खुला है।

आने वाले दिनों में और मुलाकातें

अखिलेश बुधवार दोपहर को हैदराबाद पहुंचे। हवाई अड्डे से तुरंत बाद अखिलेश राव के ‘प्रगति भवन’ नामक आधिकारिक निवास एवं कार्यालय गए, जहां पर दोनों के बीच विभिन्न मुद्दों पर चर्चा हुई। इस दौरान टीआरएस के नेता भी मौजूद रहे। बाद में सपा प्रमुख ने कहा, बातचीत का दौर आगे भी जारी रहेगा और चुनाव के आने तक कई दौर की बैठकें होंगी।

हैदराबाद में भव्य स्वागत

हैदराबाद के बेगमपेट हवाई अड्डा पहुंचने पर अखिलेश का जोरदार स्वागत किया गया। राज्य के सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री के टी रामा राव और पशुधन मंत्री टी श्रीनिवास यादव ने उनकी आगवानी की।

राव की रणनीति

राव अगले आम चुनाव से पहले एक गैर कांग्रेस और गैर भाजपा गठबंधन बनाने का प्रयास कर रहे हैं। इसी कड़ी में वह पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, पूर्व प्रधानमंत्री और जेडीएस नेता एचडी देवेगौड़ा , द्रमुक नेता एम करुणानिधि और कार्यकारी अधिकारी एमके स्टालिन से मुलाकात कर चुके हैं।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *