Mon. Jan 21st, 2019

बॉक्सर कौर सिंह को नेशनल वेलफेयर फंड से सरकार 5 लाख रुपए की मदद देंगी

साउथ एशियाई खेलों में भारत को गोल्ड मेडल दिलवाने वाले बॉक्सर कौर सिंह इन दिनों जिंदगी से जूझ रहे हैं। कौर सिंह अभी मोहाली के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती हैं, और इलाज के लिए पैसों की गुहार लगा रहा है। कौर सिंह की मदद के लिए खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने हाथ बढ़ाया है।

राठौड़ ने ट्वीट किया कि उन्हें पद्म श्री और अर्जुन अवार्डी कौर सिंह की बीमारी के बारे में पता चला, सर आपने हमेशा देश का सिर ऊंचा रखा है, आज इंडिया आपका सिर नहीं झुकने देगा। हम नेशनल वेलफेयर फंड से 5 लाख रुपए मदद के लिए देंगे।

बता दें कि कौर सिंह ने 1982 एशियन गेम्स समेत भारत के लिए तीन गोल्ड मेडल जीते थे। 1982 में तत्कालीन पंजाब की अकाली सरकार ने कैश प्राइज देने का ऐलान किया था. लेकिन अभी तक उन्हें नहीं मिल पाया था। कौर सिंह को मोहाली के अस्पताल में शिकायत के बाद भर्ती कराया गया था।

उनकी तबीयत इतनी खराब हो गई थी, कि वह चल भी नहीं पा रहे थे। पिछले 24 दिनों से वह अस्पताल में भर्ती हैं लेकिन सरकार की ओर से कोई भी प्रतिनिधि उनसे मिलने नहीं आया है। कौर सिंह उन भारतीय बॉक्सरों में से एक हैं जिन्होंने बॉक्सिंग लीजेंड मोहम्मद अली के साथ फाइट की थी। एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल के अलावा उन्होंने किंग्स कप और एशियन चैंपियनशिप में मेडल जीता था।

कौर सिंह के मुताबिक तत्कालीन मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने 1982 में घोषणा की थी कि उनको सरकार की तरफ से एक लाख रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाएगा लेकिन 35 साल गुजर गये और अभी तक उनको इस इनाम की पूरी राशि नहीं दी गई है। बकौल कौर सिंह जब एक बार उन्होंने तत्कालीन मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल को उनकी घोषणा की याद दिलाई तो वह उनको महज दस हजार रुपये दे कर चले गए, बाकी की राशि का वह आज तक इंतजार कर रहे हैं।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *