Home > शख्सियत

माखनलाल चतुर्वेदी के काव्य में राष्ट्रीय चेतना

“जाओ, जाओ, जाओ प्रभु को पहुँचाओ स्वदेश संदेश। गोली से मारे जाते हैं भारतवासी हे सर्वेश ॥“ ये पंक्तियाँ सन १९२० में जालियांवाला हत्याकाण्ड के संदर्भ में शहीदों को याद करते हुए माखनलाल चतुर्वेदी जी लिखते हैं। मैथिलीशरण गुप्त, माखनलाल चतुर्वेदी, बालकृष्ण शर्मा नवीन और रामधारी सिंह दिनकर आदि हिन्दी राष्ट्रीय काव्यधारा

Read More

स्टीफन हॉकिंग: ब्रह्मांड की गांठ खोलने वाले वैज्ञानिक

       “मै अभी और जीना चाहता हु” ये कथन किसी और के नहीं बल्कि विश्व के महान वैज्ञानिको में से एक स्टीफन हॉकिंग के है। जो उन्होंने अपने पिछले जन्मदिन पर कहे थे, जिसे सुन दुनिया एक पल के लिये अचंभित सी रह गयी थी।  उन्हें भौतिकी के

Read More

जन्मदिन विशेष:स्वामी विवेकानंद के अनमोल विचार जिन्हें जानकर बदल सकता है पूरा जीवन

आज 12 जनवरी है। स्वामी विवेकानंद की आज जयंती है, जिसे युवा दिवस के रूप में भी मनाया जाता है। वह एक वेदांत के विख्यात और प्रभावशाली आध्यात्मिक गुरु थे। उनके विचार आज भी युवाओं में असीम उर्जा का संचार करते हैं। पूरे विश्व में उनके विचारों पर गहन मंथन

Read More

आइए आपको बताते हैं कौन थे वैज्ञानिक डॉ हरगोविंद खुराना

नई दिल्ली। मंगलवार को नोबल पुरस्कार प्राप्त भारतीय मूल के वैज्ञानिक डॉ हरगोविंद खुराना का जन्मदिन है। इस मौके पर गूगल ने डूडल बना कर हरगोविंद को श्रद्धांजलि अर्पित की है। डॉ हरगोविंद ने डीएनए यानी जीन इंजीनियरिंग की बुनियाद रखने में भूमिका निभाई थी। आइए आपको बताते हैं कौन

Read More

जन्मदिन विशेष:समाज सुधारक और भारत की पहली महिला अध्यापक सावित्रीबाई फुले

सावित्रीबाई फुले का जन्म महाराष्ट्र के नायगांव में 1831 को हुआ था। उनके परिवार में सभी खेती करते थे. 9 साल की आयु में ही उनका विवाह 1840 में 12 साल के ज्योतिराव फुले से हुआ। सावित्रीबाई और ज्योतिराव को दो संताने है. जिसमे से यशवंतराव को उन्होंने दत्तक लिया

Read More

जन्मदिन विशेष: राजनीतिक धुर विरोधी भी अटल जी की कार्यशैली के थे कायल

नई दिल्ली। भारत के राजनीतिक इतिहास में अटल बिहारी वाजपेयी का संपूर्ण व्यक्तित्व शिखर पुरुष के रूप में दर्ज है। राजनीति में धुर विरोधी भी उनकी विचारधारा और कार्यशैली के कायल रहे। राजनीतिक जीवन के उतार चढ़ाव में उन्होंने आलोचनाओं के बाद भी अपने को संयमित रखा। अटल बिहारी वाजपेयी का जन्म

Read More

जन्मदिन विशेष: श्रीनिवास रामानुजन के गणित के सिद्धांत से पूरी दुनिया रह गई थी हैरान

भारत के महान गणितज्ञ श्रीनिवास रामानुजन ने जो काम केवल 32 वर्ष की उम्र में कर दिया, वैसा शायद ही देखने को मिलता है। इसीलिए उन्हें आधुनिक समय के सबसे महान गणितज्ञों में से एक माना जाता है। श्रीनिवास अयंगर रामानुजन का जन्म 22 दिसंबर, 1887 को तमिलनाडु के छोटे-से गांव

Read More

बाग़ों में बहार तो नहीं है मगर फिर भी….

तस्वीरें अपनी नियति देखने वालों की निगाह में तय करती हैं। इंडियन एक्सप्रेस के प्रवीण जैन के कैमरे से उतारी गई इस तस्वीर को देखने वालों ने तस्वीर से ज़्यादा देखा। एक फ्रेम में कैद इस लम्हे को कोई एक साल पहले के वाक़ये से जोड़ कर देख रहा है

Read More

भारत में स्वदेशी आंदोलन का दूसरा नाम आचार्य बालकृष्ण

हरिद्वार का पतंजलि योगपीठ। रात के 7 बजे हैं। बड़े-से कमरे में सामने जो शख्स बैठा है, उसका नाम फोर्ब्स की 100 भारतीय धनकुबेरों की लिस्ट में शुमार है, यकीन नहीं होता। वजह, उनका पहनावा। उन्होंने साधारण-सा कुर्ता और लुंगी पहनी हुई है। चेहरे पर भी सरलता और सहजता। बर्ताव

Read More

सादगी भरा था पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम का लाइफ स्टाइल

कलाम की बचपन से दिली ख्वाहिश थी कि वे फाइटर पायलट बनें। उन्होंने एरोस्पेस इंजीनियरिंग में पढ़ाई की और बाद में डीआरडीओ के साथ काम किया। उन्होंने अपनी जिंदगी के 40 महत्वपूर्ण साल डीआरडीओ और आईएसआरओ की सेवा में गुजारे। सपने वे नहीं होते जो आपको रात में सोते समय नींद

Read More