Mon. Dec 17th, 2018

दिल्ली से देहरादून तक एक्सप्रेस-वे बनाएगी केंद्र सरकारः गडकरी

देहरादून ।  अमर उजाला की ओर से आयोजित संवाद कार्यक्रम में केंद्रीय सड़क परिवहन, शिपिंग और नदी विकास मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि उत्तराखंड और हिमालय में 100 जगहों को चिन्हित किया जहां रोड ट्रांसपोर्ट की सुविधा विकसित की जानी है। उन्होंने कहा कि अब तक जमाना हवा में चलने वाली बसें चलाने का आ गया है। पानी में उतरने वाले हवाई जहाज योजना की शुरुआत की। इसका मुंबई में प्रयोग किया गया। प्रधानमंत्री जी ने गुजरात में सफर किया। पूरे देश में यह योजना चलाई जाएगी। उन्होंने कहा कि अब तक 8 लाख करोड़ रुपए के सड़क निर्माण का काम अवार्ड किया जा चुका है।

उन्होंने कहा कि 2019 तक उत्तराखंड में सड़कों की तस्वीर पूरी तरह बदल जाएगी। सोमवार को सीएम से कई योजनाओं को लेकर बातचीत होगी। कई योजनाओं पर फाइनल निर्णय लिया जाएगा।

गडकरी ने कहा कि उत्तराखंड में पंचेश्वर डैम पर बात होगी। पब्लिक टृांसपोर्ट एंड इलेक्टिृसिटी के विकास पर पूरा सहयोग किया जाएगा।

गडकरी ने सभी राज्य सरकारों से बायो इथेलाॅल के प्रयोग पर विशेष जोर देने का आग्रह किया। कई कंपनियां बायो इथेनाॅल के प्रयोग के लिए बाइक और कार बना रही है। टीवीएस कंपनी ने बाइक लाॅन्च की है। इसमें बायो इथेनाॅल का प्रयोग हो रहा है।

उन्होंने कहा कि नागपुर नगर पालिका ने टाॅयलेट का पानी बेचकर 18 करोड़ की कमाई की है। पानी को रिसाइकिलिंग का काम तेजी से होना चाहिए। नागपुर में 200 ओला कार बायो सीएनजी पर चलती है।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने दिल्ली से देहरादून से एक्सप्रेस-वे बनाने का निर्णय लिया है। उसी को शिमला तक जोड़ने का काम किया जाएगा। चार धाम में  400 किमी का काम अवार्ड कर दिया गया। 2018 दिसंबर तक पूरा करने का लक्ष्य। पिथौड़ागढ़ से मानसरोवर तक की यात्रा के लिए रास्ता बनाने का भी काम शुरु कर दिया गया है।

उन्होंने कहा कि उत्तराखंड मे एनएचआईए की 72 प्रोजेक्ट्स है। लेकिन सैंड नहीं मिलने के कारण देरी हो रही है।

गडकरी ने कहा कि इकाॅलाॅजी के साथ कम्प्रोमाइज नहीं चाहता हूं। नेशनल हाइवे दो गुणा किया गया है।  2019 के समाप्ति से पहले उत्तराखंड मंे सड़कों की तस्वीर बदली नजर आएगी। उन्होंने कहा कि 111 नदियों को जलमार्ग से जोड़ने का काम शुरु किया गया है। वाराणसी से हल्दिया तक 1300 किमी जलमार्ग का काम जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *