Home > व्यापार > वॉलमार्ट के हाथों में बिक जाएगा फ्लिपकार्ट, आज होगा एलान

वॉलमार्ट के हाथों में बिक जाएगा फ्लिपकार्ट, आज होगा एलान

अमेरिकी रिटेल दिग्गज वॉलमार्ट भारत के ऑनलाइन रिटेल बाजार में औपचारिक तौर पर दस्तक देने के लिए बुधवार को फ्लिपकार्ट के साथ सौदे की घोषणा कर सकती है। वॉलमार्ट ने बेंगलूरु की कंपनी फ्लिपकार्ट में करीब 75 फीसदी हिस्सेदारी करीब 15 अरब डॉलर में खरीदने का ऐलान कर महीनों से चली आ रही अटकलों  पर विराम लगाने की तैयारी कर ली है।

देश में यह सबसे बड़े सौदे में से एक होगा। उम्मीद है कि बुधवार को निवेशकों के साथ समझौता करने के साथ ही इसकी घोषणा होगी। इसी में तय होगा कि कौन निवेशक कितना हिस्सा रखेंगे और कौन अपनी पूरी हिस्सेदारी बेचेंगे। फ्लिपकार्ट के सूत्रों के मुताबिक वॉलमार्ट का वरिष्ठ प्रबंधन बेंगलूरु के लिए रवाना हो चुका है। फ्लिपकार्ट के संस्थापक सचिन बंसल और बिन्नी बंसल के साथ कंपनी के मुख्य कार्याधिकारी कल्याण कृष्णमूर्ति के साथ सौदे की घोषणा से पहले बैठक होगी।

फ्लिपकार्ट के कर्मचारियों की बैठक शुक्रवार को बेंगलूरु कार्यालय में हो सकती है। उम्मीद की जा रही है कि मैकमिलन कंपनी के कर्मचारियों को संबोधित करेंगे। इस मौके पर फ्लिपकार्ट के शीर्ष प्रबंधन और संस्थापक भी मौजूद रहेंगे। कर्मचारियों का कहना है कि सौदे की घोषणा लंबे समय से चली आ रही अटकलों और एमेजॉन द्वारा अधिग्रहण के प्रयास के बाद होने जा रही है। सूत्रों ने कहा कि सौदे की प्रक्रिया पूरी होने तक वॉलमार्ट के अधिकारी समय-समय पर यहां आते रहेंगे।

सूत्रों ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से वरिष्ठ प्रबंधन टीम लीडर की तरह प्रबंधन में बदलाव को लेकर कर्मचारियों के सवालों और आशंकाओं का जवाब दे रहे हैं। फ्लिपकार्ट के एक वरिष्ठ टीम लीडर ने कहा, ‘नए प्रबंधन के नेतृत्व में कर्मचारियों की छंटनी को लेकर सवाल पूछे जा रहे हैं, वहीं कंपनी में कार्य संस्कृति में आने वाले संभावित बदलावों को लेकर भी कर्मचारियों के मन में सवाल उठ रहे हैं।’ सूत्रों ने कहा कि प्रबंधन ने आश्वस्त किया है कि किसी की छंटनी नहीं होगी और कारोबार पहले की तरह चलता रहेगा। प्रबंधन ने कर्मचारियों को यह भरोसा भी दिलाया है कि उनके प्रदर्शन का वार्षिक मूल्यांकन बेहतर होगा। सौदे के तहत फ्लिपकार्ट के बड़े निवेशक जैसे कि सॉफ्टबैंक, टाइगर ग्लोबल, नैस्पर्स कंपनी से बाहर हो जाएंगे, वहीं एक संस्थापक सचिन बंसल भी अपनी हिस्सेदारी बेच सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *