Home > राष्ट्रीय > जीएसटी काउंसिल की डिनर पार्टी में सारी कड़वाहट भुलाकर एक साथ नजर आए जेटली और केजरीवाल

जीएसटी काउंसिल की डिनर पार्टी में सारी कड़वाहट भुलाकर एक साथ नजर आए जेटली और केजरीवाल

नई दिल्ली। जहां एक तरफ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और वित्त मंत्री अरुण जेटली कोर्ट में एक – दूसरे के खिलाफ मानहानि का केस  लड़ रहे है। तो वहीं दूसरी ओर दोनों नेता एक साथ एक डिनर पार्टी के दौरान बहुत ही करीबी नजर आए। दरअसल गुरूवार को जीएसटी काउंसिल की तरफ से रखी गई डिनर पार्टी में जीएसटी का नेतृत्व कर रहे अरुण जेटली और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल डिनर पार्टी में एक साथ नजर आए थे।

इतना ही नहीं एक दूसरे के विपक्षी पार्टी के ये दिग्गज नेता डिनर पार्टी में एक दूसरे के साथ एक ही सौफे पर एक साथ बैठे हुए दिखाई दिए थे। इस पार्टी कुछ तस्वीरें आप ने अपने आधिकारिक ट्वविटर अकाउंट पर शेयर किया । इस तस्वीरों में आप ये साफ देख सकते है कि दोनों नेता एक दूसरे के साथ बहुत ही खुशमुना व्यवहार के साथ मिले और एक साथ आराम  से  बैठे हुए दिखाई दे रहे है।

वहीं, पिछले साल केन्द्रीय मंत्री अरुण जेतली ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर आरोप लगाया था कि वह उनके द्वारा आप नेताओं के खिलाफ दायर मानहानि वाद की सुनवाई में देरी कर रहे हैं। वित्त मंत्री के वकील ने कहा कि केजरीवाल के वकील द्वारा उच्च न्यायालय में उनसे जिरह के दौरान गैरजरूरी सवाल पूछे जा रहे हैं। उन्होंने इस मामले में जल्द सुनवाई का अनुरोध किया।

जेतली की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता संदीप सेठी और अधिवक्ता माणिक डोगरा ने दिल्ली उच्च न्यायालय के संयुक्त रजिस्ट्रार राकेश पंडित से कहा, ‘‘वे गैरजरूरी सवाल पूछ रहे हैं और अदालत का समय बर्बाद कर रहे हैं। वे सुनवाई में देरी क्यों कर रहे हैं? हम जल्द से जल्द तारीख चाहते हैं क्योंकि उन्हें जिरह पूरी करने की कोई जल्दबाजी नहीं है।’’

नौवें दौर की पूछताछ के लिए अदालत में मौजूद रहे 64 साल के जेतली ने शांति से काम लिया और डेढ घंटे की सुनवाई के दौरान 26 सवालों के जवाब दिये। जेतली ने आप नेताओं पर दस करोड़ रुपये का दीवानी मानहानि वाद दायर किया है।

केजरीवाल की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता अनूप जार्ज चौधरी और वकील अनुपम श्रीवास्तव ने कहा कि जल्द सुनवाई की कोई जरूरत नहीं है और अदालत को अन्य मामले की तरह इसमें तारीख देनी चाहिए। इस पर अदालत ने कहा कि वह अगली तारीख पर इस संबंध में फैसला करेगी। अदालत ने जेतली से जिरह जारी रखने के लिए अगले साल दो, 12 और 13 फरवरी की तारीख तय की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *