Mon. Jan 21st, 2019

बेटे की शादी में शामिल होने आज पटना जाएंगे लालू प्रसाद यादव

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव अपने बड़े बेटे तेज प्रताप यादव की शादी में शामिल होने के लिए बुधवार को पटना जाएंगे। उन्हें पटना ले जाने की तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं। पटना में लालू के बेटे की शादी 12 मई को निर्धारित है। इस बाबत जेल अधीक्षक ने जेल महानिरीक्षक से नौ से 14 मई तक के पेरोल की सशर्त अनुशंसा की है। वहीं, मंगलवार की देर रात मेडिकल बोर्ड ने भी यात्रा के लिए लालू को फिट बताया।

मेडिकल बोर्ड में छह डॉक्टरों की टीम ने देर रात तक लालू की स्वास्थ्य रिपोर्ट की समीक्षा की। बोर्ड ने लालू की सेहत में सुधार पाया, इसके बाद लालू को पेरोल पर छोड़ने का रास्ता साफ हो गया। अब लालू को पटना ले जाने के लिए सुरक्षा-व्यवस्था आदि की समीक्षा हो रही है, ताकि कड़ी सुरक्षा घेरे में लालू को पटना ले जाया जा सके।

लालू ने बेटे की शादी के लिए एक महीने का पेरोल मांगा था। उनके इस आवेदन पर बिरसा मुंडा केंद्रीय जेल होटवार के अधीक्षक ने विचार के बाद नौ से 14 मई तक पेरोल की अनुशंसा जेल महानिरीक्षक से की। लालू के पेरोल की फाइल पर मंगलवार को दिनभर माथापच्ची चलती रही। रांची पुलिस-प्रशासन से भी इस मामले में रिपोर्ट मांगी गई थी, ताकि पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था के बीच लालू को पटना भेजा जा सके।

गौरतलब है कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव चारा घोटाले में सजायाफ्ता हैं। कई बीमारियों से ग्रसित होने के कारण वह अभी रिम्स में भर्ती हैं। डॉक्टरों के अनुसार उनकी तबीयत में पहले से अधिक सुधार है। इसके बाद ही उन्हें पेरोल पर जाने की अनुमति दी गई है।

लालू का इंफेक्शन बढ़ा

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री एवं चारा घोटाला में सजा काट रहे लालू प्रसाद का इंफेक्शन का स्तर बढ़ गया है। मंगलवार को उनका डब्ल्यूबीसी (व्हाइट ब्लड सेल) 11600 रहा। यह 7000 से 11000 तक सामान्य माना जाता है। इससे अधिक डब्ल्यूबीसी इंफेक्शन का संकेत है।

मेडिकल बुलेटिन जारी करते हुए राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) के प्रभारी निदेशक डॉ. आरके श्रीवास्तव ने बताया कि लालू की हालत स्थिर बनी हुई है। वह कई तरह की बीमारियों से ग्रसित हैं। उधर, लालू का इलाज कर रहे डॉ. उमेश प्रसाद ने बताया कि उनकी स्थिति में सुधार हो रहा है। शुगर लेबल में उतार-चढ़ाव हो रहा है। इलाज के क्रम में इंसुलिन की मात्रा धीरे-धीरे बढ़ा रहे हैं। इसका फायदा मिल रहा है।

उन्होंने कहा कि देश की सबसे अच्छे चिकित्सकों (एम्स) की टीम ने कहा है कि लालू की किडनी स्टेज थ्री में है। किडनी फेलियर के पांच स्टेज होते हैं। स्टेज थ्री अर्थात उनकी दोनों किडनी 50 फीसद ही काम कर रही है। स्टेज बढ़ने से स्थिति गंभीर हो सकती है। उनका शुगर कंट्रोल में रखना जरूरी है। उन्हें खान-पान को ले चौकसी बरतने की सलाह दी गई है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *