Home > राष्ट्रीय > मक्का मस्जिद विस्फोट: आरोपियों को बरी करने वाले न्यायाधीश रवींद्र रेड्डी ने दिया इस्‍तीफ़ा

मक्का मस्जिद विस्फोट: आरोपियों को बरी करने वाले न्यायाधीश रवींद्र रेड्डी ने दिया इस्‍तीफ़ा

हैदराबाद में आतंकवाद रोधी विशेष अदालत ने सोमवार को मक्का मस्जिद में 2007 में हुए बम विस्फोट मामले में स्वामी असीमानंद सहित सभी आरोपियों को बरी कर दिया है। वहीं इस मामले में अब नया मोड़ आ गया है। सभी आरोपियों को बरी करने वाले राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के न्यायाधीश रवींद्र रेड्डी ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।

रेड्डी ने आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस को अपना इस्तीफा भेजा है।सूत्रों के अनुसार उन्होंने निजी वजहों से इस्तीफा दिया है। पहले यह खबर सामने आई कि उन्होंने 10 दिन की छुट्टी ली है लेकिन उन्होंने फैसले के तुरंत बाद इस्तीफा दे दिया। वहीं ​हैदराबाद पुलिस ने इस फैसले के बाद पूरे शहर में सुरक्षा बढ़ा दी है। सुरक्षा व्यवस्था के तौर पर पुलिस और अर्धसैनिक बल के 3,000 से अधिक जवानों को तैनात किया गया।

बता दें कि 18 मई, 2007 को प्रसिद्ध चारमीनार के पास जुमा की नमाज के दौरान मक्का मस्जिद में हुए विस्फोट में नौ लोगों की मौत हो गई थी और 58 लोग घायल हो गए थे। इस घटना के बाद मस्जिद के बाहर प्रदर्शन कर रहे लोगों पर पुलिस फायरिंग में पांच और लोगों की मौत हुई  थी इस मामले में 10 आरोपियों में से आठ लोगों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की गई थी। सभी पांच आरोपी देवेंद्र गुप्ता, लोकेश शर्मा, स्वामी असीमानंद उर्फ नबा कुमार सरकार, भारत मोहनलाल रत्नेश्वर उर्फ भारत भाई और राजेंद्र चौधरी को कोर्ट ने बरी करने का फैसला सुनाया। इन सभी को मक्का मस्जिद विस्फोट मामले में गिरफ्तार किया गया था और उनपर ट्रायल चला था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *