Mon. Dec 17th, 2018

पाक सेना ने सीमा पर बनाई 16 नई चौकियां, 250 मुजाहिद रेजिमेंट जवान कर दिए तैनात

पिछले कुछ हफ्तों से पाकिस्तान की ओर से नियंत्रण रेखा पर भारतीय क्षेत्रों में की जा रही भारी गोलाबारी अकारण नहीं है। इसके पीछे पाकिस्तान ने गहरी साजिश रची है। दरअसल, पाकिस्तानी सेना ने अपने क्षेत्र में करीब 16 नई चौकियां तैयार कर करीब 250 जवानों को इनमें तैनात भी कर दिया है। इन्हें भी भारतीय क्षेत्र में गोलाबारी करने का आदेश जारी किया गया है।

 सर्दियों में पहाड़ों पर बर्फबारी से अधिकतर रास्ते बंद होने के कारण पाक सेना भारतीय क्षेत्र में आतंकियों की घुसपैठ करवाने में लगभग विफल रही है। अब मौसम में सुधार हो रहा है और मार्गो पर बर्फ भी कम होती जा रही है। पाक सेना इस मौसम में अधिक से अधिक आतंकियों को भारतीय क्षेत्र में दाखिल करवाने का प्रयास कर रही है। इसलिए आए दिन पाकिस्तान संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रहा है।

सूत्रों के अनुसार, पाक सेना ने राजौरी व पुंछ जिलों में अपने क्षेत्र में करीब 16 नई पोस्ट तैयार करके इनमें मुजाहिद रेजिमेंट के जवान तैनात कर दिए हैं। इन्हें भारतीय क्षेत्र में अधिक से अधिक गोलाबारी कर घुसपैठियों को भारतीय क्षेत्र में दाखिल करवाने में सहयोग करने के निर्देश दिए गए हैं। कुछ दिन पहले भी चार आतंकियों का दल सुंदरबनी सेक्टर से भारतीय क्षेत्र में दाखिल हुआ था, जो सुरक्षाबलों के के हाथों मारे गए।

ऊंचाई व आबादी वाले क्षेत्रों में हैं नई पोस्ट : पाक सेना ने जिन नई पोस्टों का निर्माण किया है वे सीमा से थोड़ा हटकर आबादी वाले क्षेत्रों में ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बनाई गई हैं, ताकि इनकी लोकेशन का पता भारतीय सेना को न लग सके और वहां से भारतीय क्षेत्र पर पूरी नजर रखी जा सके। सूत्रों के अनुसार पाक सेना द्वारा भारतीय चौकियों व रिहायशी क्षेत्रों पर जो 120 एमएम के मोर्टार गिराए जा रहे हैं, वह अधिकतर इन्हीं पोस्टों से ही दागे जा रहे हैं।

ऊंचाई व आबादी वाले क्षेत्रों में हैं नई पोस्ट

पाक सेना ने जिन नई पोस्टों का निर्माण किया है, वे सीमा से थोड़ा हटकर आबादी वाले इलाकों में ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बनाई गई हैं, ताकि इनकी लोकेशन का पता भारतीय सेना को न लग सके और वहां से भारतीय क्षेत्र पर पूरी तरह नजर रखी जा सके। सूत्रों के अनुसार पाक सेना द्वारा भारतीय चौकियों व रिहायशी क्षेत्रों पर जो 120 एमएम के मोर्टार गिराए जा रहे हैं, वह अधिकतर इन्हीं पोस्टों से ही दागे जा रहे हैं।

पोर्टर की मौत

कश्मीर के बारामूला के उड़ी सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान गोलाबारी में सेना के एक पोर्टर की मौत हो गई। 37 वर्षीय खुर्शीद अहमद पुत्र मोहम्मद शरीफ निवासी नवा रूंडा सेना की चार मद्रास यूनिट में पोर्टर का काम करता था।

सूत्रों के अनुसार सुबह पौने ग्यारह बजे नियंत्रण रेखा से सटे इलाके में सेना के जवान सामान को एक से दूसरी जगह पहुंचा रहे थे। सीमा पार से पाक सेना ने गोलीबारी शुरू कर दी। खुर्शीद अहमद की गर्दन में गोली लगी, जिससे उसकी मौत हो गई। भारतीय सेना ने भी गोलीबारी का कड़ा जवाब दिया। पोर्टर के शव को कब्जे में लेकर पुलिस ने पोस्टमार्टम करवाया कर परिवार को सौंप दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *