Home > उत्तराखंड > प्रोजेक्ट मॉनिटरिंग ग्रुप के साथ मुख्य सचिव उत्पल कुमार

प्रोजेक्ट मॉनिटरिंग ग्रुप के साथ मुख्य सचिव उत्पल कुमार

देहरादून, ]: मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह की पीएमओ में गठित पीएमजी (प्रोजेक्ट मॉनिटरिंग ग्रुप) के साथ बैठक हुई। इस दौरान 3846 करोड़ रुपये से बनने वाली तपोवन-विष्णुगाड जल विद्युत परियोजना, 208 करोड़ रुपए से बनने वाली किच्छा-खटीमा रेलवे लाइन, 105 करोड़ रुपये से बनने वाली देवबंद-रुड़की नई रेलवे लाइन, 605 करोड़ रुपए से बनने वाली काशीपुर-सितारगंज सड़क परियोजना और चारधाम मार्ग कनेक्टिविटी सुधारीकरण परियोजना की प्रगति पर समीक्षा की गई।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई इस बैठक में चमोली जिले में धौलीगंगा नदी पर बनने वाली तपोवन-विष्णुगाड जल विद्युत परियोजना के बारे में बताया गया कि एनवायरनमेंट इम्पेक्ट असेसमेंट कराने के बाद एनटीपीसी को उप-खनिज निकासी की अनुमति दे दी जाएगी। किच्छा-खटीमा रेलवे लाइन को लेकर बताया गया कि रेलवे अधिकारियों द्वारा एलाइनमेंट के सर्वेक्षण का प्रस्ताव मिलने के बाद कार्रवार्इ की जाएगी। वहीं देवबंद-रुड़की रेलवे लाइन बनने से दिल्ली-देहरादून की दूरी 42 किलोमीटर कम हो जाएगी। इसके लिए राज्य सरकार ने भूमि अधिग्रहण का कार्य पूरा कर लिया है। केवल एक गांव का अधिग्रहण बाकी है। इसके लिए धनराशि दो दिन में जारी कर दी जाएगी।

इस लाइन पर होने वाला व्यय अब बढ़कर 791 करोड़ रूपये हो गया है। इसके लिए केंद्र सरकार से पचास-पचास प्रतिशत व्यय भार वहन करने का अनुरोध किया गया है। बैठक में बताया गाया कि काशीपुर-सितारगंज मार्ग निर्माण का 80 प्रतिशत कार्य हो गया है। 46 किलोमीटर पाइप लाइन को शिफ्ट कर दिया गया है। कुल 800 में से 126 स्ट्रक्चर शिफ्ट हो गए हैं।

वहीं 11697 करोड़ रुपये से 889 किलोमीटर निर्माणाधीन चारधाम मार्ग कनेक्टिविटी सुधारीकरण परियोजना के बारे में बताया गया कि 4200 करोड़ रुपये की 396 किलोमीटर सड़कों की स्वीकृति मिल गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *