Home > व्यापार > जीएसटी के तहत सिंगल टैक्स रिटर्न फॉर्म दिसंबर तक आ सकता है- हसमुख अधिया

जीएसटी के तहत सिंगल टैक्स रिटर्न फॉर्म दिसंबर तक आ सकता है- हसमुख अधिया

केन्द्रीय वित्त सचिव हसमुख अधिया ने कहा कि दिसंबर तक वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के तहत सिंगल टैक्स रिटर्न फॉर्म आ सकता है। एक इंटरव्यू के दौरान अधिया ने बताया कि किस तरह चालान को नए टैक्स रिटर्न फॉर्म और ई-वे बिल सिस्टम से मिलान कर टैक्स चोरी को बचा सकते हैं। आइये जानते हैं उनकी बातचीत के कुछ अंश-

सवाल- एक साल में कैसा रहा जीएसटी? क्या आप मानते हैं कि यह स्थिर रहा?
हां, मैं ऐसा मानता हूं कि जितना हमने सोचा था उससे कहीं ज्यादा जीएसटी स्थिर रहा। अगर किसी देश से तुलना करें फिर भी यहां पर काफी बेहतर रहा। अन्य कुछ देशों में इसका अनुभव बहुत अच्छा नहीं रहा और मलेशिया में तो इसे तीन साल के अंदर ही स्थगित कर दिया गया।

सवाल- जीएसटी लागू होने के बाद कई तरह की आलोचनाएं भी की गई जिसके चलते इसमें कई तरह के बदलाव भी किए गए?
यह समस्या मुख्य तौर पर तकनीकी दिक्कतों के चलते पैदा हुई है। जीएसटी काउंसिल की 27 बार बैठक हुई है। जब भी आवश्यकता हुई उसमें सुधार को लेकर कभी भी ढिलाई नहीं बरती गई। अगर कुछ लोग ये कहते हैं कि बहुत ज्यादा बदलाव अक्षमता के संकेत हैं तो मैं ऐसा नहीं मानता हूं। यह गतिशीलता का संकेत है और लोगों की समस्याएं सुन रहे हैं और उस पर फौरन एक्शन ले रहे हैं।

तो फिर जीएसटी का अगला चरण क्या है?
अगले चरण में इसको लेकर दो प्राथमिकताएं हैं। पहला सिंगल रिटर्न फॉर्म लेकर आना। हम ऐसी उम्मीद करते हैं कि दिसंबर तक लेकर आ जाएंगे। दूसरी प्राथमिकता है कि उन कानूनों में बदलाव का ताकि करदाताओं के अनुभव को बेहतर बनाया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *