Home > दुनिया > अमेरिकी राष्ट्रपति और किम जोंग के साथ 50 मिनट तक चली मुलाकात, ट्रंप बोले- अच्छी रही बातचीत

अमेरिकी राष्ट्रपति और किम जोंग के साथ 50 मिनट तक चली मुलाकात, ट्रंप बोले- अच्छी रही बातचीत

एक-दूसरे को नेस्तनाबूद करने की कसमें खाने वाले कट्टर दुश्मन देशों के शीर्ष नेताओं ने आज सारी दूरियां मिटाकर एक दूसरे से हाथ मिलाया है। इस सदी की सबसे चर्चित शिखर वार्ता के तहत अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग-उन ने सिंगापुर के सेंटोसा द्वीप में पहली बार हंसकर एक-दूसरे से बात की है।

मुलाकात के दौरान डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि उम्मीद है हम दोनों के संबंध अच्छे रहेंगे। सबकुछ भुलाकर अब हम आगे बढ़ेंगे। इस दौरान किम जोंग उन ने कहा कि यहां तक पहुंचना आसान नहीं था। हमने सबकुछ भुलाकर यह मुलाकात की है। दोनों नेताओं के बीच करीब 50 मिनट तक मुलाकात हुई।

अमेरिकी राष्ट्रपति और उत्तर कोरियाई नेता के बीच हुई इस मुलाकात के बाद माना जा रहा है कि ट्रंप और किम के बीच बेहद तल्ख रहे रिश्तों में बदलाव आएगा। दोनों नेताओं के बीच वन-ऑन-वन मुलाकात खत्म हो गई है। अब दूसरे दौर की प्रतिनिधिमंडल स्तर की बैठक जारी है।

लाइव अपडेट्स ः

8:15 AM – सिंगापुर: अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की बैठक जारी।

7:50 AM – सिंगापुर : किम के साथ 50 मिनट तक चली बातचीत के बाद ट्रंप ने कहा, ‘हमारी बातचीत अच्छी रही।’

बता दें कि इन दोनों नेताओं के बीच हुई मुलाकात पर पूरी दुनिया की निगाहें टिकी हुई थी, क्योंकि ट्रंप और किम की हरकतों से न सिर्फ अमेरिका और उत्तर कोरिया बल्कि पूरे विश्व की सुरक्षा पर खतरा मंडराने लगा था। किम तीन पीढ़ियों में उत्तर कोरिया के पहले नेता हैं जिन्होंने अमेरिकी राष्ट्रपति से मुलाकात की है। इसी तरह ट्रंप पद पर रहते हुए किसी उत्तर कोरियाई शीर्ष नेता से मिलने वाले पहले अमेरिकी राष्ट्रपति हैं।
इससे पहले, अभूतपूर्व सुरक्षा इंतजामों के बीच हुए बहुचर्चित शिखर सम्मेलन की तैयारियों को अंतिम रूप देने के लिए सोमवार को दोनों देशों के अधिकारियों ने मुलाकात की। दोनों पक्षों ने शीर्ष नेताओं के बीच बातचीत के एजेंडो को लेकर मतभेदों को दूर करने की कोशिश की। बाद में कपेला होटल में एक संवाददाता सम्मेलन में अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा था कि अगर उत्तर कोरिया पूर्ण निरस्त्रीकरण पर राजी हो जाता है तो अमेरिका उसे पूरी सुरक्षा मुहैया कराने की गारंटी देने के लिए तैयार है।

इस बीच, ट्रंप ने सोमवार को सिंगापुर के प्रधानमंत्री ली सिएन लूंग से मुलाकात की और उम्मीद जताई कि किम के साथ इस ‘अत्यंत दिलचस्प’ वार्ता के अच्छे नतीजे सामने आएंगे। लूंग के साथ इस्ताना पैलेस में लंच के बाद ट्रंप ने शानदार मेहमाननवाजी के लिए उनका शुक्रिया अदा किया।

कौन कहां ठहरा है

trump, kim

ट्रंप पांच सितारा शांगरिला होटल में ठहरे हैं जबकि किम उनसे आधे किमी की दूरी पर पांच सितारा सेंट रेजिस होटल में रुके हैं।

सौ करोड़ का खर्च
सिंगापुर में ट्रंप-किम शिखर सम्मेलन पर लगभग 100 करोड़ रुपये का खर्च आने का अनुमान है। इसमें सुरक्षा खर्च भी शामिल है। यह पूरा खर्च सिंगापुर की सरकार वहन कर रही है।

शिखर वार्ता से पहले अगली बैठक का न्योता
ट्रंप के साथ शिखर वार्ता से पहले ही किम ने उन्हें जुलाई में दूसरी बैठक के लिए उत्तर कोरिया आने का न्योता दिया है। दक्षिण कोरिया के एक अखबार के मुताबिक शिखर वार्ता में अगर परमाणु निरस्त्रीकरण पर सहमति बनती है तो जुलाई में दोनों नेताओं की बैठक हो सकती है। इसके बाद दोनों के वाशिंगटन में तीसरी बार मिलने की संभावना है।

25 साल पहले भी हुई थी एक चर्चित शिखर वार्ता
अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन की पहल पर इस्राइली प्रधानमंत्री इत्जाक राबिन और फलस्तीन नेता यासिर अराफात के बीच एक शिखर वार्ता हुई थी, जिसकी पूरी दुनिया में चर्चा हुई थी। दोनों दुश्मन देश इस शिखर वार्ता में शांति स्थापित करने और एक-दूसरे के अस्तित्व को स्वीकर करने पर सहमत हुए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *