Home > उत्तर प्रदेश > जो सरकारें हमारी माँ-बहनों को खुले मे शौच से मुक्ति नहीं दे सकीं वह देश का विकास क्या करेंगी-मोहसिन रजा

जो सरकारें हमारी माँ-बहनों को खुले मे शौच से मुक्ति नहीं दे सकीं वह देश का विकास क्या करेंगी-मोहसिन रजा

अमेठी।  जनपद के गौरीगंज जिला मुख्यालय के मनीषी महिला महाविद्यालय में यूपी दिवस समारोह का आयोजन किया गया।कार्यक्रम में अमेठी प्रभारी मंत्री मोहसिन रजा,तिलोई विधायक मयंककेश्वर शरण सिंह, अमेठी की विधायिक गरिमा सिंह समेत बीजेपी के कई बड़े नेताओं ने हिस्सा लिया। वहीं कार्यक्रम मे हिस्सा लेने पहुंचे प्रभारी मंत्री ने बीजेपी नेताओं के साथ विभिन्न विभागों द्वारा लगाये गये स्टालों का निरीक्षण करते हुए मंच पर पहुंचे और माँ सरस्वती कि प्रतिमा पर दीप प्रज्वलित और पूजा अर्चना कर कार्यक्रम की शुरूआत की।

कार्यक्रम को दिए सम्बोधन में प्रभारी मंत्री ने मौजूद लोगों को यूपी दिवस की बधाई दी। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने कांग्रेस और सपा पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि जो सरकारें हमारी माँ-बहनों को खुले मे शौच से मुक्ति नहीं दे सकीं वह देश का विकास क्या करेंगी। उन्होंने कहा कि आजादी के सत्तर साल बाद आज भाजपा शासन काल में देश व प्रदेश तरक्की के शिखर पर जाना जाता है। बिना नाम लिए कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि 27 साल यूपी बेहाल जय जवान जय किसान का नारा देने वाली सरकारों ने महज लोगों को गुमराह किया है।

उन्होंने कहा कि भाजपा जो वादा करती है वह पूरा करती है। उन्होंने कहा कि अब देश व प्रदेश की सरकारें सारे बन्धन तोड़ कर देश व प्रदेश का विकास कर रही हैं। प्रभारी मंत्री ने अमेठी सांसद राहुल गांधी पर चुटकी लेते हुए कहा कि ड्राइंग रूम में राजनीति करने वाली सरकारें और अमेठी की जनता ने जिस सासंद को अमेठी सौंपा है उन्हें अमेठी कि चिन्ता नहीं। मुझे लगता है चुनाव परिणाम के बाद वे हड़बड़ाये हुए हैं और जल्द ही वह अमेठी छोड़कर जाने वाले हैं। वहीं भाजपा सरकार के विकास कार्यों का गुणगान करते हुए कहा कि आज देश व प्रदेश तरक्की के शिखर पर है तो उसकी देन भाजपा है। हज सब्सिङी मुद्दे को उठाते हुए प्रभारी मंत्री ने कहा कि मुस्लिम समाज के लोग चाहते थे कि हज सब्सिङी खत्म हो और प्रधानमंत्री ने उनकी मांगों को तुरन्त पूरा किया। हज सब्सिङी खत्म होने के बाद उससे बचने वाले पैसे से देश में मुस्लिम समाज कि दबी कुचली वर्ग की महिलाओं का विकास किया जायेगा।

सभा संबोधन समापन के बाद प्रभारी मंत्री ने दीनदयाल योजना के तहज 262 करोड़ 47 लाख कि लागत से बनने वाले 6 सम्पर्क मार्ग का शिलान्यास किया। वहीं 816 करोड़ 94 लाख के सरकारी दफ्तरों का लोकार्पण किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *