Home > उत्तराखंड > उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय में 10 जनवरी तक चलेंगी प्रवेश प्रक्रिया%!%!%!%!%!%!%!%!

उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय में 10 जनवरी तक चलेंगी प्रवेश प्रक्रिया%!%!%!%!%!%!%!%!

देहरादून। प्रदेश के कॉलेजों में दाखिला प्रक्रिया खत्म हो चुकी है। कम अंकों और मेरिट में न आ पाने के कारण हजारों छात्र कॉलेज में दाखिले से महरूम रह गए। लेकिन, अब उनके पास अपनी पढ़ाई पूरी करने का एक और मौका है। उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय (यूओयू) ने छात्रों की परेशानी देखते हुए नए सत्र के आवेदन की तिथि बढ़ा दी है। विवि से जुड़े कार्यक्रमों में प्रवेश लेने के लिए छात्र 10 जनवरी तक आवेदन कर सकते हैं।

व्यक्तिगत परीक्षाएं बैन, छात्र हुए थे संबद्ध 

अभी तक राज्य में व्यक्तिगत परीक्षा प्रणाली संचालित थी, जो विद्यार्थी संस्थागत रूप में उच्च शिक्षा प्राप्त करने में असमर्थ होते थे। वे व्यक्तिगत परीक्षा के माध्यम से श्रीदेव सुमन और कुमाऊं विवि से व्यक्तिगत परीक्षाएं देकर उच्च शिक्षा की उपाधि प्राप्त करते थे। लेकिन, 2016 में राज्य में व्यक्तिगत परीक्षाएं आयोजित न करने के फैसले के बाद सभी संबद्ध छात्रों को छात्र दूरस्थ शिक्षा पद्धति यानि उत्तराखंड मुक्त विवि से उच्च शिक्षा प्रदान करने का फैसला लिया गया।

जिसके चलते इस साल मुक्त विवि ऐसे छात्रों के लिए परीक्षा का आयोजन कर रहा है। सत्र 2017-18 बीए, एमए, बीकॉम, एमकॉम पाठ्यक्रमों में प्रथम वर्ष में दाखिला ले सकते हैं। वहीं द्वितीय और तृतीय वर्ष के विद्यार्थी व्यक्तिगत रूप में ही अपनी उपाधि पूर्ण करेंगे। इसी के तहत उत्तराखंड मुक्त विवि हल्द्वानी ने राज्य के अपने सभी अध्ययन केंद्रों पर इन छात्रों के लिए विशेष प्रवेश प्रक्रिया शुरू की है, जो 26 दिसंबर 2017 से शुरू होकर 10 जनवरी 2018 तक चलेगी।

विवि के कुलपति प्रो. नागेश्वर राव ने बताया कि छात्रहित में यह प्रक्रिया विशेष रूप से शुरू की गई है, ताकि छात्रों को कोई समस्या न हो। उन्होंने बताया कि जून माह में छात्रों की परीक्षाओं का आयोजन कर दिया जाएगा। विशेष प्रवेश प्रक्रिया के तहत प्रवेश न लेने वाले छात्रों का प्रवेश शीतकालीन सत्र में हो पाएगा, जिससे उनका सत्र छह माह पीछे हो जाएगा।

व्यक्तिगत परीक्षाओं के छात्रों को राहत 

उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय ने राज्य के उन सभी छात्र-छात्राओं के लिए ग्रीष्मकालीन 2017-18 विशेष प्रवेश प्रक्रिया शुरू की है जो बीते साल तक राज्य के श्रीदेव सुमन विवि और कुमाऊं विवि से प्राईवेट परीक्षा के लिए पंजीकृत थे। लेकिन, विवि द्वारा आयोजित किए जाने वाले सत्र में सैंकड़ों छात्र-छात्राएं ऐसे हैं जो प्रवेश के लिए आवेदन नहीं पाए हैं। विवि ने ऐसे छात्रों को एक और मौका देते हुए 10 जनवरी तक आवेदन करने का अवसर प्रदान किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *